Connect with us

Hi, what are you looking for?

Rail Hunt

देश-दुनिया

DG एन काशीनाथ बने पहले मेंबर S&T, मिठाई बांट जतायी गयी खुशी

नई दिल्ली. सिग्नल एंड टेलीकम्यूनिकेशन के वर्तमान डीजी एन काशीनाथ को रेलवे बोर्ड में पहला मेंबर S&T नियुक्त किया गया है. मेंबर सिग्नल एंड टेलीकम्युनिकेशन के लिए अधिसूचना 16 अप्रैल को जारी की गयी. इस सूचना के जारी होने के बाद सिग्नल एंड टेलीकम्युनिकेशन के कर्मचारियों ने मिठाई बांटकर खुशी का इजहार किया. इंडियन रेलवे सिग्नल एंड दूरसंचार मजदूर यूनियन ने इसे बड़ी जीत और संगठन की उपलब्धि करार दिया है.

IRSTMU की ओर से जारी बयान में राष्ट्रीय अध्यक्ष नवीन कुमार ने बताया कि वर्षों से संकेत एवं दूरसंचार विभाग के कर्मचारी शोषण का शिकार हो रहे है. प्रबंधन की दोहरी नीति का जवाब देने के लिए राष्ट्रीय महामंत्री आलोक चन्द्र प्रकाश के नेतृत्व में “इंडियन रेलवे एस एडं टी मैंटेनरर्स यूनियन” (IRSTMU) का गठन कर हक की लड़ाई शुरू की गयी थी. यूनियन के संकल्प का असर अब दिखायी देने लगा है. संकेत एवं दूरसंचार विभाग में लगातार हो रहे बदलावों को महसूस किया जा सकता है जो IRSTMU के शीर्ष नेतृत्वकर्ताओं की कड़ी मेहनत के परिणाम है. इसी क्रम में संकेत एवं दूरसंचार विभाग के लिए Member (S&T) एन काशीनाथ की नियुक्ति की गयी है. इससे अब सिग्नल और दूरसंचार कर्मियों की मांगों को रेलवे बोर्ड तक पहुंचाना आसान हो गया है.

मान्यता प्राप्त यूनियनों तथा फेडरेशनों ने एसएंडटी कर्मचारियों को उनका हक दिलाने की जगह कई और विभाग के अन्य कैटिगरी को रिस्क तथा हार्डशिप अलाउंस दिये जाने की मांग कर S&T कर्मचारियों के साथ छल कर रहे.

नवीन कुमार, राष्ट्रीय अध्यक्ष, IRSTMU

नवीन कुमार के अनुसार संकेत एवं दूरसंचार विभाग के कर्मचारियों को रिस्क अलाउंस तथा नाईट ड्यूटी फेलियर गैंग की स्थापना की कवायद तो चल रही है लेकिन रिस्क अलाउंस तथा हार्डशिप अलाउंस के गड़े मुर्दे को आज धरातल पर केवल “इंडियन रेलवे एस एडं टी मैंटेनरर्स युनियन” (IRSTMU) ही लायी है. लेकिन बड़ी चालाकी से मान्यता प्राप्त यूनियनों तथा फेडरेशनों ने एसएंडटी कर्मचारियों को उनका हक दिलाने की जगह कई और विभाग के अन्य कैटिगरी को रिस्क तथा हार्डशिप अलाउंस दिये जाने की मांग कर S&T कर्मचारियों के साथ छल कर रहे. नवीन कुमार के अनुसार जब-जब S&T कर्मचारियों की बात आती है इसी प्रकार साजिश के तहत मान्यता प्राप्त फेडरेशन नया कृत्य शुरू कर देते है.

पहले भी ऐसा किया गया है और इतिहास गवाह है कि मान्यता प्राप्त यूनियनों ने हमारी एकता को तोड़ने का हर संभव प्रयास पहले भी किया है. अब S&T कर्मचारियों के लिए “इंडियन रेलवे एस एडं टी मैंटेनरर्स यूनियन” (IRSTMU) का उदय हो चुका है. यह युवा वर्ग से संचालित संगठन है जो इतिहास भी जानता है और वर्तमान भी. यही कारण है कि किसी विषय पर कार्य करते हैं तो भविष्य में जाकर विषयवस्तु को आधुनिक रूप भी युवा नेता दे देते है. राष्ट्रीय अध्यक्ष नवीन कुमार ने कहा कि “जीत हमेशा सत्य की होती है और हमारी ही जीत निश्चित है” उन्होंने कर्मचारियों से अनुरोध किया कि सहयोग के साथ तन मन धन से संगठन के साथ सहभागिता बनाये रखे, भविष्य हमारा ही होगा.

Spread the love

Latest

You May Also Like

रेलवे यूनियन

इंडियन रेलवे सिग्नल एंड टेलीकॉम मैन्टेनर्स यूनियन ने तेज किया अभियान, रेलवे बोर्ड में पदाधिकारियों से की चर्चा  नई दिल्ली. सिग्नल और दूरसंचार विभाग के...

रेलवे यूनियन

नडियाद में IRSTMU और AIRF के संयुक्त अधिवेशन में सिग्नल एवं दूर संचार कर्मचारियों के हितों पर हुआ मंथन IRSTMU ने कर्मचारियों की कठिन...

रेलवे यूनियन

IRSTMU – AIRF  के संयुक्त अधिवेशन में WREU के महासचिव ने पुरानी पेंशन योजना लागू करने की वकालत की  नडियाद के सभागार में पांचवी...

न्यूज हंट

KOTA. मोबाइल के उपयोग को संरक्षा के लिए बड़ा खतरा मान रहे रेल प्रशासन लगातार रनिंग कर्मचारियों पर सख्ती बरतने लगा है. रेल प्रशासन...