Connect with us

Hi, what are you looking for?

Rail Hunt

देश-दुनिया

फेडरेशन के रिटायर नेता पुरानी पेंशन की राह में मुख्य रोड़ा : आलोक चंद्र

  • 9 नवम्बर दिल्ली में सत्याग्रह का ऐलान, कर्मचारियों से सहयोग का आह्वान

रेलहंट ब्यूरो, नई दिल्ली

15 सितंबर को रतलाम जूनियर रेलवे इंस्टीट्यूट में NPS के विरूद्ध जागरूकता अभियान में एक बार फिर से ओल्ड पेंशन को लेकर संघर्ष करने का आह्वान किया गया. इसके लिए सर्वसम्मति ने आने वाले 9 नवंबर को केंद्र सरकार के समक्ष अपनी मांग को प्रभावी तरीके से रखने के लिए दिल्ली में सत्याग्रह की घोषणा की गयी. कर्मचारियों से इसमें सहयोग करने का अनुरोध समिति के नेताओ ने किया.  इस मौके पर उपस्थित सहयोगियों ने दूसरे सहयोगियों को जागरूक करने की शपथ भी ली.

जागरूकता शिविर में मंच पर विराजमान संघर्ष समिति के पदाधिकारी

NMOPS के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी मंजीत पटेल, दिल्ली के प्रदेश अध्यक्ष जावेद आदि ने पश्चिम रेलवे कर्मचारी पुरानी संयुक्त पेंशन संघर्ष के सहयोगियों का मार्ग दर्शन किया. इस मौके पर संघर्ष समिति के संस्थापक आलोक चंद्र प्रकाश ने कहा कि रेलकर्मी अब भी मान्यता प्राप्त यूनियन और फेडरेशन के मकड़जाल में उलझे हुए है. दोनों की फेडरेशन के रिटायर नेता जब तक उसका प्रतिनिधित्व करते रहेंगे ओल्ड पेशन तक उनकी पहुंच का रास्ता कठित होता जायेगा. उन्होंने कहा कि पुरानी पेंशन में मुख्य रोड़ा फेडरेशन में जमे ये रिटायर नेता हैं, जिन्हें अब जबरन सेवानिवृत्ति दिये जाने की जरूरत है.

जागरूकता शिविर में उपस्थित रेलकर्मी व राज्य सरकार के कर्मचारी

जागरूकता अभियान में NMOPS के राष्ट्रीय मेडिया प्रभारी मंजीत पटेल रेलकर्मियों को जागरूक रहने पर जोर दिया और कहा कि समय रहते चेत जाने से उन्हें अधिक नुकसान नहीं होगा. कार्यक्रम में मौजूद NMOPS के मध्य प्रदेश के अध्यक्ष परमानंद डहेरिया ने कहा कि राज्य और रेलवे के कर्मचारी संयुक्त रूप से इस मिशन के साथ जुट जाये तो पुरानी पेंशन की मांग जरूरी पूरी हो जायेगी. पश्चिम रेलवे कर्मचारी पुरानी संयुक्त पेंशन संघर्ष के अध्यक्ष मनोज कुमार ने अपने संबोधन में कहा कि पुरानी पेंशन ही कर्मचारियों के बुढ़ापे का सहारा है. उन्होंने 9 नवंबर को NMOPS के बैनर तले आयोजित सत्याग्रह में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेने का आह्नान किया. कार्यक्रम में समिति के उपाध्यक्ष सुधांषु कुमार ने रेलकर्मियों को चेतावनी दी कि अगर आज आप जागरूक नहीं हुए तो बुढ़ापे में पछताने के अलावा कुछ नहीं बचेगा.

सुधांषु कुमार ने पीएफआरडीए का एप डाउनलोड कर हमेशा उस पर नजर रखने को कहा ताकि रेलकर्मियों को यह पता चल सके कि उन्हे कितना नुकसान हो रहा है. मंच संचालन करते हुए कार्यकारी अध्यक्ष नवीन बोकारिया और सह सचिव अशोक यादव ने कहा कि NMOPS वर्तमान में राज्य व केंद्र सरकार के कर्मचारियों की पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर एकमात्र आवाज बनकर रह गया है. सम्मेलन में सुजीत कुमार शर्मा, लोकेश, कमलेश कुमार, विक्रम सिंह, राजीव ओझा, रंजीत पंडित, रणविजय, गौरव दूबे, अरविंद, कमल किशोर मंडल समेत राज्य व केंद्र सरकार के कई कर्मचारी मौजूद थे.

सूचनाओं पर आधारित समाचार में आपकी टिप्पणी अथवा विचारों का स्वागत है, आप हमें वाट्सएप 6202266708 या मेल railnewshunt@gmail.com पर भेज सकते है, हम उसे पूरा स्थान देंगे. 

Spread the love

Latest

You May Also Like

रेलवे यूनियन

इंडियन रेलवे सिग्नल एंड टेलीकॉम मैन्टेनर्स यूनियन ने तेज किया अभियान, रेलवे बोर्ड में पदाधिकारियों से की चर्चा  नई दिल्ली. सिग्नल और दूरसंचार विभाग के...

रेलवे यूनियन

नडियाद में IRSTMU और AIRF के संयुक्त अधिवेशन में सिग्नल एवं दूर संचार कर्मचारियों के हितों पर हुआ मंथन IRSTMU ने कर्मचारियों की कठिन...

न्यूज हंट

राउरकेला से टाटा तक अवैध गतिविधियों पर सीआईबी इंस्पेक्टरों का मौन सिस्टम के लिए घातक   सब इंस्पेक्टर को एडहक इंस्पेक्टर बनाकर एक साल से...

रेलवे जोन / बोर्ड

ECR CFTM संजय कुमार की छह लाख रुपये घूस लेने के क्रम में हुई थी गिरफ्तारी जांच के क्रम में  SrDOM समस्तीपुर व सोनपुर को...