Connect with us

Hi, what are you looking for?

Rail Hunt

देश-दुनिया

रिस्क अलाउंस व फेलियर गैंग की स्थापना पर विचार करेंगे रेलमंत्री

  • सांसदों के समर्थन से इंडियन रेलवे एस एडं टी मैंटेनरर्स यूनियन का मनोबल बढ़ा

नई दिल्ली. संकेत एवं दूरसंचार विभाग के कर्मचारियों को रिस्क अलाउंस तथा नाईट ड्यूटी फेलियर गैंग की स्थापना की दिशा में
इंडियन रेलवे एस एडं टी मैंटेनरर्स यूनियन की पहल मुकाम तक पहुंचती नजर आ रही है. गुरुवार तीन जनवरी को यूनियन नेताओं ने नालंदा के सांसद कौशलेन्द्र कुमार के नेतृत्व में रेलमंत्री पीयुष गोयल से मिलकर उन्हें कर्मचारियों की समस्याओं से अवगत कराया. सांसद कौशलेन्द्र ने कर्मचारियों की मांगों को लेकर रेल मंत्री को अपनी अनुशंसा भी की. इस पर रेलमंत्री ने विचार करने का आश्वासन भी दिया.

रेलमंत्री से मिलने पहुंचे इंडियन रेलवे एस एडं टी मैंटेनरर्स युनियन के पदाधिकारियों की खुशी का तब ठिकाना न रहा जब मुलाकात  के क्रम में पाटलिपुत्रा के सांसद एवं ग्रामीण विकास राज्य मंत्री राम कृपाल यादव ने भी रिस्क अलाउंस की मांग को जायज ठहराते हुए रेल मंत्री से अपनी ओर से अनुशंसा की. सांसद ने का कहा कि संकेत कर्मियों को रिस्क अलाउंस के साथ नाईट ड्यूटी फेलियर गैंग की स्थापना भी होनी चाहिए .

समस्तीपुर के सांसद के साथ यूनियन प्रतिनिधि

इससे पूर्व खेड़ा के सांसद देवू सिंह चौहान ने यूनियन को आश्वस्त किया कि वह उनकी मांग को शुन्य काल में उठायेंगे. उधर समस्तीपुर के सांसद रामचन्द्र पासवान ने भी यूनियन को पूरा समर्थन दिया है. यूनियन नेता उनके उनके जन्म दिन पर उन्हें बधाई देने उनके आवास पहुंचे थे. सांसद ने यूनियन को आश्वस्त किया कि बहुत जल्द वे संकेत एवं दूरसंचार विभाग के कर्मचारियों की समस्याओं के समर्थन में रेल मंत्री से मिलेंगे और रिस्क अलाउंस तथा नाईट ड्यूटी फेलियर गैंग की स्थापना में आ रही बाधाओं को दूर करने की मांग करेंगे.

इंडियन रेलवे एस एडं टी मैंटेनरर्स युनियन के महासचिव आलोक चन्द्र प्रकाश जी ने कहा कि संकेत एवं दूरसंचार विभाग के कर्मचारियों की समस्याओं को दूर करने के लिए शुरू की गयी पहल मुकाम तक पहुंचती नजर आ रही है. हम समस्याओं के समाधान के बाद संकेत एवं दूरसंचार विभाग के कर्मचारियों को उनके कार्यों का उचित सम्मान भी दिलाने की पहल करेंगे.

संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नवीन कुमार ने यूनियन की सफलता में कार्यकर्ताओं के योगदान की सराहना की. उन्होंने यूनियन के राष्ट्रीय सहसचिव रेवती रमण, दिल्ली के मंडल सचिव राघवेन्द्र कुमार, दिनेश चौधरी आदि की पहल को कारगर बताया है. उम्मीद जतायी कि 2019 में रिस्क अलाउंस तथा नाईट ड्यूटी फेलियर गैंग की स्थापना की मांग उनकी पूरी हो जायेगी.

Spread the love

Latest

You May Also Like

न्यूज हंट

PRAYAGRAJ : उत्तर मध्य रेलवे के प्रयागराज मंडल में ट्रेन में पेंट्रीकार मैनेजर से 20 हजार रुपये घूस मांगने का वीडियो वायरल किया गया है....

मीडिया

MUMBAI : मुंबई से बड़ी दुखदायी खबर आ रही है. सोशल मीडिया में चल रही सूचनाओं के अनुसार वेस्टर्न रेलवे में चर्च गेट के...

रेलवे यूनियन

CHAKRADHARPUR : चक्रधरपुर रेलमंडल को लोडिंग में अव्वल बनाने वाले रेलकर्मियों को न बेहतर आवास की सुविधा मिल रही है न ही उन्हें स्वास्थ्य...

मीडिया

आगरा कैंट इंस्पेक्टर, सब इंस्पेक्टर समेत चार निलंबित AGRA : अवैध वसूली के मामलों में कार्रवाई नहीं होने के कारण आरपीएफ के अधिकारी व...