Connect with us

Hi, what are you looking for?

Rail Hunt

देश-दुनिया

सीबीआइ करेगी तलाश, कहां गया 1000 मीट्रिक टन खाद, एजेंसी पर प्राथमिकी

नई दिल्ली. सीबीआइ की जम्मू श्रीनगर शाखा ने 1000 एटी खाद की हेराफेरी के मामले में रेलवे की आउटसोर्स एजेंसी मनोज जी एंड कंपनी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली है. 17 जनवरी को दर्ज प्राथमिकी में एजेंसी के संचालक राजेश ओबेराय सहित अन्य को आरोपी बनाया गया है. आरोप है कि रेलवे की आउटसोर्स एजेंसी ने अधिकारियों की मिलीभगत से करोड़ों रुपये की खाद की हेराफेरी की.अब इसकी जांच सीबीआई करेगी. 

विभिन्न स्थानों से आने वाले जैविक खाद को लोडिंग प्वाइंट से गोदाम तक पहुंचाने का काम रेलवे ने आउटसोर्स एजेंसी मनोज जी एंड कंपनी को दिया है. बताया जा रहा है कि एजेंसी ने उत्तर रेलवे से लेकर बोर्ड के अधिकारियों को अंधेरे में रखकर श्रीनगर के किसानों एवं फल उत्पादकों तक समय पर फर्टिलाइजर की सप्लाई नहीं की. रेलवे ने अनियमितता के लिए एजेंसी का अनुबंध रद करने की कार्रवाई शुरू की तो रेलवे के खिलाफ कोर्ट चली गयी. इस तरह यह मामला टलता गया. 

गुजरात के कांदला में इंडियन फार्मर्स फर्टिलाइजर को आपरेटिव लिमिटेड द्वारा निर्मित खाद कश्मीर के उत्पादकों एवं किसानों तक पहुंचाने के लिए रेलवे से अनुबंध है. रेलवे खाद कांदला से ऊधमपुर तक पहुंचाती है. ऊधमपुर से यह खाद पॉइंट तक यह फर्टिलाइजर पहुंचाने एजेंसी मनोज जी एंड कंपनी पहुंचाती है. वित्तवर्ष 2017-18 में करीब 1000 मीट्रिक टन खाद गोदाम तक नहीं पहुंचाने की जांच सीबीआइ करेगी.

सभार रेल समाचार

Spread the love

Latest

You May Also Like

रेलवे यूनियन

इंडियन रेलवे सिग्नल एंड टेलीकॉम मैन्टेनर्स यूनियन ने तेज किया अभियान, रेलवे बोर्ड में पदाधिकारियों से की चर्चा  नई दिल्ली. सिग्नल और दूरसंचार विभाग के...

रेलवे यूनियन

नडियाद में IRSTMU और AIRF के संयुक्त अधिवेशन में सिग्नल एवं दूर संचार कर्मचारियों के हितों पर हुआ मंथन IRSTMU ने कर्मचारियों की कठिन...

रेलवे यूनियन

IRSTMU – AIRF  के संयुक्त अधिवेशन में WREU के महासचिव ने पुरानी पेंशन योजना लागू करने की वकालत की  नडियाद के सभागार में पांचवी...

न्यूज हंट

KOTA. मोबाइल के उपयोग को संरक्षा के लिए बड़ा खतरा मान रहे रेल प्रशासन लगातार रनिंग कर्मचारियों पर सख्ती बरतने लगा है. रेल प्रशासन...