Connect with us

Hi, what are you looking for?

Rail Hunt

रेलवे यूनियन

अग्निपथ योजना दोषपूर्ण व युवा विरोधी, इसे वापस ले सरकार, 29 को देशव्यापी प्रदर्शन : शिवगोपाल

  • एआइआरएफ के युवा सम्मेलन में फेडरेशन के नेताओं ने सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा
  • नाइट ड्यूटी एलाउंस पर निर्णय नहीं होने पर देशव्यापी धरना-प्रदर्शन की दी गयी चेतावनी

मुंबई. ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन के महामंत्री शिवगोपाल मिश्रा ने कहा है कि अग्निपथ योजना काफी दोषपूर्ण और युवा विरोधी है. उन्होंने इस योजना को तत्काल वापस लेने की मांग सरकार से की है. उन्होंने कहा कि अगर ऐसा नही हुआ तो 29 जून को राष्ट्रव्यापी धरना – प्रदर्शन किया जाएगा. महामंत्री ने युवाओं से रेलवे के बेहतरी में आगे आने का आह्वान किया और कहा कि उनका भविष्य इंतजार कर रहा है, उन्हें आगे बढ़कर भागीदारी निभानी है और तभी निजीकरण के खिलाफ लड़ाई अंजाम तक पहुंच सकेगी.

इससे पहले यूथ सम्मेलन में ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन के फायरब्रांड नेता एनआरएमयू सेंट्रल रेलवे के महामंत्री कॉमरेड वेणु पुरुषोत्तम नायर ने सरकार के नीतियों के खिलाफ युवा रेलकर्मियों में जोश भरा और उन्हें हर चुनौती का सामना करने के लिए तैयार रहने को कहा.

एआईआरएफ की यूथ लीडर प्रीति सिंह ने युवाओं का आह्वान किया कि ये चुनौती सिर्फ रेल के सामने नहीं है, बल्कि युवाओं के लिए भी बड़ी चुनौती है, हमें तय करना है कि हम अपना भविष्य कैसा बनाना चाहते है, अगर हमें अपने हक और हकूक की लड़ाई लड़नी है तो एकजुट होकर संघर्ष के अलावा कोई विकल्प नहीं है.

यूथ सम्मेलन में देश भर से आये कई नेताओं ने अपने विचार रखे और सरकार की नीतियों पर विरोध दर्ज कराया. ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन का पहला यूथ सेफ्टी सेमिनार 17और 18 जून को मुंबई में आयोजित किया गया. इसमें भाग लेने के लिए देश भर के सभी जोन व मंडल से फेडरेशन से संबंद्ध यूनियनों के प्रतिनिधि आये थे.

इससे पहले मुंबई में 16 जून को आयोजित AIRF की वर्किंग कमेटी की बैठक में महामंत्री कॉम. शिव गोपाल मिश्रा ने कई ज्वलंब मुद्दों पर चर्चा की. इसमें डीए भुगतान, पुरानी पेंशन बहाली के लिए देशव्यापी आंदोलन करने, निजीकरण का विरोध, रेलवे तिमाही के रखरखाव के लिए पर्याप्त धन आवंटित करना, 365 दिन बाद भी चाइल्ड केयर लीव का 100 प्रतिशत भुगतान करना, खाली पदों को भरने पर चर्चा की गयी.

साउट ईर्स्टन रेलवे के सभी चार डिवीजन रांची, चक्रधरपुर, आद्रा, खड़गपुर से लोगों ने यूथ सम्मेलन में प्रतिनिधित्व किया. यहां पुरानी पेंशन बहाली को लेकर लगातार आंदोलन चल रहा है. इस दौरान रनिंग कर्मचारियों की समस्याओं पर भी चर्चा की गयी. मेंस यूनियन नेता और चक्रधरपुर रेलमंडल के आदित्यपुर शाखा के अध्यक्ष मुकेश सिंह ने बयान जारी कर कहा है कि युवा और महिला रेलकर्मियों के एकजुटता से ही निजीकरण और पेंशन बहाली की लड़ाई अंजाम पर पहुंच सकेगी.

Spread the love

Latest

You May Also Like

रेलवे यूनियन

तारकेश कुमार ओझा, खड़गपुर रेलवे में स्टेशन मास्टरों की ओर से प्रस्तावित 31 मई का सामूहिक अवकाश फिलहाल स्थगित हो गया है . इससे...

रेलवे यूनियन

पटना. दानापुर रेलमंडल के नवनियुक्त सीनियर डीएसटीई Sr. DSTE Danapur मनीष कुमार से मिलकर IRSTMU नेताओं ने S&T कर्मचारियों के मुद्दों पर लंबी चर्चा...

रेलवे जोन / बोर्ड

सेंट्रल रेलवे के मुंबई डिवीजन अंतर्गत कालू नदी के ब्रिज पर खड़ी 11059 गोदान एक्सप्रेस के पीछे से दूसरे डिब्बे में हुई चेन पुलिंग...

रेलवे यूनियन

नये स्टेशन पर कर्मचारियों के लिए सभी सुविधाओं से युक्त ड्यूटी रुम बनाने की मांग  पटना. इंडियन रेलवे एस एंड टी मैंटेनर्स यूनियन (IRSTMU)...