Connect with us

Hi, what are you looking for?

Rail Hunt

ताजा खबरें

टाटानगर : कोलकाता घूमने के लिए की चोरी, स्टेशन पर धराये, पांच बच्चे चाइल्ड लाइन के हवाले

  • टाटानगर में विशेष टीम के सदस्यों को मिली कामयाबी

जमशेदपुर. कोलकाता घूमने के लिए कदमा क्षेत्र में रहने वाले पांच बच्चों ने चोरी को अंजाम दिया. रुपये जुगाड़ होते ही पांचों दोस्त स्टेशन पहुंचे गये. यहां से टिकट लेकर सभी कोलकाता भागने की ताक में थे. तभी आरपीएफ के एएसआइ रंजीत कुमार की नजर बच्चों पर पड़ी. स्थिति भांपते ही रंजीत कुमार ने आरपीएफ जवान संजय कुमार और एसडी यादव के सहयेाग से बच्चों को अपने कब्जे में ले लिया. घटना 10 सितंबर रात 8.30 बजे की है. बच्चों से आरपीएफ एएसआइ ने पूछताछ शुरू की. पहले तो पांचों बच्चे आरपीएफ अफसर को गुमराह करते रहे, लेकिन बाद में विस्तृत पूछताछ और अनुसंधान के बाद सच सामने आ गया. इसके बाद सभी को चाईल्ड लाइन के हवाले कर दिया गया.

कदमा क्षेत्र के रहने वाले सभी पांच बच्चों ने मिलकर चोरी की अंजाम दिया था. हालांकि शिकायतकर्ता के सामने नहीं आने के कारण बच्चों पर कार्रवाई संभव नहीं थी. बच्चों ने बताया कि उन लोगों ने कोलकाता जाने के लिए अपने मां के मालकिन के घर में चोरी की. इस तरह रुपये का जुगाड़ किया. सभी घूमने कोलकता जाना चाहते थे. इसके बाद सभी स्टेशन पर पहुंचे. उन्हें नहीं पता था कि टिकट कहां से मिलता है. सभी इसके लिए पता कर ही रहे थे तभी आरपीएफ ने उन्हें अपनी निगरानी में ले लिया. इधर बच्चों से पूछताछ के बाद आरपीएफ पदाधिकारी ने उनके परिजनों से संपर्क किया गया. बच्चों के पास से 3500 रुपये भी टीम ने बरामद किये थे. बच्चों के दोबारा गलती नहीं करने के वादे के बाद आरपीएफ की टीम ने सभी पांच बच्चों को चाइल्ड लाइन के हवाले कर दिया है.

प्रतीक्षालय से मोबाइल उड़ाया, आरपीएफ ने दबोचा

जमशेदपुर. आरपीएफ की टीम ने स्टेशन पर दो मोबाइल के साथ एक युवक को गिरफ्तार किया है. पकड़ा गया युवक फतेज आजम कवाली, सरायकेला का निवासी है. आरपीएफ की टीम ने उसे शक होने पर रोका और बाद में सीसीटीवी फुटेज से उसकी गतिविधियों की पुष्टि होने के बाद उसे हिरासत में ले लिया. प्रतीक्षालय में बार-बार अंदर आने और बाहर जाने को लेकर आरपीएफ का शव युवक पर गया. इसके बाद ऑन डयूटी एएसआइ बलबीर प्रसाद ने युवक की गतिविधियों पर गौर करना शुरू किया. आरपीएफ जवान संजय कुमार, ब्रिजेश सिंह यादव, सुशील सैनी, लगातार युवक की निगरानी की. शक पक्का होने के बाद जवानों ने उसे गेट पर रोका और पूछताछ की. युवक के पास दो मोबाइल मिलने पर उसका नंबर व अन्य जानकारी आरपीएफ टीम ने मांगी जो युवक नहीं बता सका. युवक ने बताया कि प्रतीक्षालय में चार्ज में लगा मोबाइल उसने चोरी किया है सीसीटीवी फुटेज में उसकी बात सच साबित होने के बाद आरपीएफ टीम ने उसे गिरफ्तार कर रेल पुलिस के हवाले कर दिया.

Spread the love

You May Also Like

ताजा खबरें

सबसे अधिक पद नॉदर्न रेलवे में 2350 किये जायेंगे सरेंडर, उसके बाद सेंट्रल रेलवे में 1200 ग्रुप ‘सी’ और ‘डी’ श्रेणी के पद सरेंडर...

गपशप

डीआईजी अखिलेश चंद्रा ने सीनियरिटी तोड़कर प्रमोशन देने का लगाया आरोप नई दिल्ली. रेलवे सुरक्षा बल में अपने सख्त व विवादास्पद निर्णय के लिए...

ताजा खबरें

मोदी सरकार के शपथ ग्रहण के दिन ही जारी लखनऊ डीआरएम ने दिया टारगेट विभागों के आउटसोर्स करने से खाली पदों पर सरेंडर करने...

विचार

राकेश शर्मा निशीथ. देश के निरंतर विकास में सुचारु व समन्वित परिवहन प्रणाली की महत्वपूर्ण भूमिका होती है. वर्तमान प्रणाली में यातायात के अनेक साधन,...