Connect with us

Hi, what are you looking for?

Rail Hunt

देश-दुनिया

रेलवे ट्रैकमैन को दिया जाएगा ‘रक्षक’

दिल्ली. रेलवे बोर्ड ने अब अपने कर्मचारियों को एक व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण देने का फैसला लिया है. पटरियों की गश्त के दौरान रखरखाव कर्मचारियों के ट्रेनों की चपेट में आने के मामलों को लेकर चिंतित रेलवे बोर्ड ने ये कदम उठाया है.

ट्रैकमैन को जूते, दस्ताने, बरसाती, सर्दी में पहना जाने वाला जैकेट और औजार भी दिये जाते हैं. बोर्ड ने पिछले हफ्ते सभी ट्रैकमैन के लिए एक पायलट प्रोजेक्ट के रूप में उच्च घनत्व वाले क्षेत्रों में इस्तेमाल किए जा सकने वाले वॉकी टॉकी डिवाइस ‘रक्षक’ को मंजूरी प्रदान कर दी.

बोर्ड ने सभी जोनल रेलवे को लिखे एक पत्र में कहा है, ‘पटरी पर ड्यूटी के दौरान ट्रैकमैन के कुचले जाने की भारी संख्या को देखते हुये रक्षक प्रकार का एक सुरक्षा प्रणाली का इस्तेमाल करना जरूरी है और इसे शीघ्रता से लागू करने की आवश्यकता है.’

पत्र में कहा गया है, ‘हालांकि, प्रणाली अभी शुरुआती चरण में है और समूचे रेल नेटवर्क पर इसे लागू करना संभव नहीं है. हालांकि, लोगों के कुचले जाने की भारी संख्या को देखते हुये प्रायोगिक आधार पर समूचे उच्च घनत्व वाले नेटवर्क पर रक्षक तरह की सुरक्षा प्रणाली तैनात किये जाने का निर्णय किया गया है.’

रक्षक को 24 किलोमीटर लंबे दक्षिण मध्य रेलवे में लगाया गया है और आने वाली ट्रेनों के बारे में ट्रैकमैन को पहले बताने में यह सफल रहा है.

Spread the love

Latest

You May Also Like

रेलवे यूनियन

इंडियन रेलवे सिग्नल एंड टेलीकॉम मैन्टेनर्स यूनियन ने तेज किया अभियान, रेलवे बोर्ड में पदाधिकारियों से की चर्चा  नई दिल्ली. सिग्नल और दूरसंचार विभाग के...

रेलवे यूनियन

नडियाद में IRSTMU और AIRF के संयुक्त अधिवेशन में सिग्नल एवं दूर संचार कर्मचारियों के हितों पर हुआ मंथन IRSTMU ने कर्मचारियों की कठिन...

न्यूज हंट

राउरकेला से टाटा तक अवैध गतिविधियों पर सीआईबी इंस्पेक्टरों का मौन सिस्टम के लिए घातक   सब इंस्पेक्टर को एडहक इंस्पेक्टर बनाकर एक साल से...

रेलवे जोन / बोर्ड

ECR CFTM संजय कुमार की छह लाख रुपये घूस लेने के क्रम में हुई थी गिरफ्तारी जांच के क्रम में  SrDOM समस्तीपुर व सोनपुर को...