ताजा खबरें न्यूज हंट रेलवे जोन / बोर्ड

रेलवे देश के हर हिस्से तक पहुंचायेगा लिक्विड ऑक्सीजन व सिलेंडर, बनाया जायेगा ग्रीन कारिडोर

  • वाइजाग, जमशेदपुर, राउरकेला और बोकारो से होगी लिक्विड ऑक्सीजन की आपूर्ति 

नई दिल्ली. कोरोना संक्रमण कर बढ़ती रफ्तार और ऑक्सीजन की बढ़ती आवश्यकता को देखते हुए रेलवे लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन ऑक्सीजन सिलेंडरों को एक स्थान से दूसरे स्थान तक पहुंचाने के लिए ऑक्सीजन एक्सप्रेस चलायेगा. इन ट्रेनों को तेजी से निर्धारित जगह पर पहुंचाने के लिए ग्रीन कॉरिडोर बनाये जायेंगे. महाराष्ट्र सरकार के अनुरोध पर यह पहल की गयी है. इसमें महाराष्ट्र से खाली टैंकर सोमवार को चलेंगे जो विशाखापत्तनम, जमशेदपुर, राउरकेला, बोकारो से ऑक्सीजन लेंगे.

तकनीकी ट्रायल के बाद खाली टैंकरों को कलमबोली/बोइसर से मुंबई भेजा जा रहा है जहां से उन्हें वाइजाग, जमशेदपुर, राउरकेला और बोकारो भेजा जायेगा. यहां से लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति रेलवे के माध्यम से विभिन्न स्थानों को सुनिश्चित की जायेगी. महाराष्ट्र के अलावा मध्य प्रदेश सरकार ने रेलवे से लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन टैंकरों के परिवहन में सहयोग करने और उसके लिए रास्ता तलाशने का अनुरोध किया था.

इस पर रेलवे ने विभिन्न जांच के बाद बताया कि लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन को रोल ऑन रोल ऑफ सर्विस के जरिए ले जाया जा सकेगा. इसके लिए टैंकर्स को फ्लैट वैगन पर रखकर एक स्थान से दूसरे स्थाल ले जाना होगा. यही नहीं रोड ओवरब्रिज और ओवरहेड इक्विपमेंट को ध्यान में रखकर कम ऊंचाई वाले रोड टैंकर को उपयुक्त माना गया है. 15 अप्रैल को मुंबई में इसका ट्रायल किया गया. इसके बाद रेलवे और प्रशासनिक अधिकारियों ने इसे लेकर बैठक की.

कमर्शियल बुकिंग और फ्रेट पेमेंट के लिए रेल मंत्रालय ने 16 अप्रैल को सर्कुलर जारी कर दिया है. 17 अप्रैल को रेलवे बोर्ड अधिकारियों और स्टेट ट्रांसपोर्ट कमिश्नरों तथा इंडस्ट्री के प्रतिनिधियों की बैठक में यह निर्णय लिया गया कि टैंकर्स का इंतजाम महाराष्ट्र के ट्रांसपोर्ट कमिश्नर करेंगे. रविवार को इसका ट्रायल किया गया. सोमवार को 10 खाली टैंकर रवाना किये जायेंगे.

 

Spread the love

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *