ताजा खबरें न्यूज हंट रेलवे यूनियन

सीमित संसाधनों में भी कर्तव्य व ड्यूटी पर डटे हैं रेलवे ट्रैक मेंटेनर : प्रमोद डांगी

  • रेलवे कर्मचारी ट्रैक मेंटेनेर एसोसिएशन की स्थापना दिवस पर महामंत्री ने साथियों को भेजा संदेश, बढ़ाया हौसला
  • देश के हर नागरिक तक राशन पहुंचाने के लिए ट्रैक दुरुस्त रखने और खुद को सुरक्षित रखने की अपील

रेलहंट ब्यूरो, नई दिल्ली

कोरोना के संक्रमण से जूझ रहे देश व लोगों तक खाद्य व जरूरी सामानों की आपूर्ति सुनिश्चित कराने में जुटी रेलवे को रफ्तार देने जुटे ट्रैक मेंटेनरों की कर्तव्य निष्ठा आज मोर्चे पर डटे एक सैनिक और अस्पताल में डटे डॉक्टर से कम नहीं है. कोरोना के संक्रमण से बचाव के लिए देश व्यापी लॉकडाउन के बावजूद घरों से निकलकर रेलवे के कई विभाग के कर्मचारी मुस्तैदी से ड्यूटी पूरी कर रहे है ताकि देश में लोगों तक जरूरी सामान पहुंचाया जा सके. इसमें रेलवे ट्रैक मेंटेनरों की भूमिका अहम है. ऐसे तो इस मोर्चे पर रेलवे के ऑपरेटिंग व कॉमर्शियल के कुछ विभाग के लोग भी डटे है लेकिन इनके बीच सीमित संसाधनों के बावजूद सिग्नल व कम्युनिकेशन (#S&T) और ट्रैक मेंटेनरों की भूमिका जमीनी स्तर पर महती हो गयी है. इसके बीच ट्रैंक मेंटेनरों की संस्था रेलवे कर्मचारी ट्रैक मेंटेनेर एसोसिएशन (#RKTA) आज अपनी स्थापना की पांचवीं वर्षगाठ मना रही है.

प्रमोद डांगी, महामंत्री, आरकेटीए

रेलवे कर्मचारी ट्रैक मेंटेनेर एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष वी रवि और राष्ट्रीय महामंत्री प्रमोद डांगी ने ट्रैक मेंटेनरों को शुभकामनाएं देते हुए विकट परिस्थिति में लोगों तक राशन पहुंचाने में अपने कर्तव्य का निर्वहन करने के लिए आभार भी जताया है. ट्रैक मेंटेनरों को भेजे अपने संदेश में महामंत्री ने कहा है कि करोना महामारी के इस खतरे के दौरान हमें मानवता को बचाने के लिए सीमित संसाधनों के साथ अधिकतम प्रयास करने होंगे. इन प्रयासों में हमारा ट्रैक मेंटेनर साथी भी अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है, हो सकता है आपके पास अपने कर्तव्य के निर्वहन के समय संक्रमण से बचाव के संसाधनों की सीमित आपूर्ति रही होगी लेकिन फिर भी हमें सीमित संसाधनों का अधिकतम उपयोग करते हुए अपने कर्तव्य का निर्वहन कर देश के प्रत्येक नागरिक तक राशन पहुंचाने के लिए ट्रैक दुरुस्त रखना है ताकि ट्रेनों की आवाजाही में कोई दिक्कत ना हो.

महामंत्री ने कहा है कि उनके कार्य में सोशल डिस्टेंसिंग बनाना मुश्किल होता है लेकिन फिर भी सहयोगी सोशल डिस्टेंसिंग बनाने की कोशिश करें तथा एक-दूसरे के संपर्क में कम आये. मॉस्क तथा दस्ताने जरूर पहने, सामूहिक रूप से पानी के बर्तन ना रख कर व्यक्तिगत बोतल रखें. शाम को घर में जाने से पहले गर्म पानी से स्नान करें और खुद के साथ परिवार को भी संक्रमण से बचायें.

महामंत्री ने जारी अपील में बताया है कि एक भी कर्मचारी के संक्रमित होने पर बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है. इसलिए रेल प्रशासन तथा राज्य सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए ड्यूटी निभाये. किसी भी साथी में कोरोना के लक्षण दिखाई देने पर तुरंत रेल प्रशासन अथवा RKTA के पदाधिकारियों को सूचित करें ताकि उनतक मदद पहुंचायी जा सके. इस कार्य में एनडब्ल्यूआर में राजेंद्र गुर्जर,अनिल यादव, श्रवण बाजिया, तेजपाल जिंदल, महिपाल सहवाग, राजेश पूनियां सक्रिय है जो आपको सहयोग करेंगे. महामंत्री प्रमोद डांगी ने इस मौके पर रेल प्रशासन की भूमिका को भी अहम बताया है. उन्होंने अनुरोध किया है कि निचले पायदान पर तैनात खड़े हमारे कर्मचारियों तथा उनके परिजनों के स्वास्थ्य का भी पूर्ण ध्यान रखा जाये. ताकि विषम परिस्थिति में परिवार से दूर रहकर भी ट्रैकमेंटेनर देश की सेवा कर सकें.

सूचनाओं पर आधारित समाचार में किसी सूचना अथवा टिप्पणी का स्वागत है, आप हमें मेल railnewshunt@gmail.com या वाट्सएप 6202266708 पर अपनी प्रतिक्रिया भेज सकते हैं.

Spread the love

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *