Connect with us

Hi, what are you looking for?

Rail Hunt

न्यूज हंट

कोल्हान की बेटी ने तैयार किया है कर्नाटक भारत गौरव ट्रेन के लिए व्रैप ग्राफिक, पीएम ने की कार्य की सराहना

MMDI के सहयोगियों के साथ नंदिनी सुमन, बायें से दूसरी
  • आदित्यपुर के उद्योगपति गंगा प्रसाद शर्मा की पोती हैं नंदिनी सुमन, बेंगलुरु की MMDI में हैं कार्यरत
  • काशी, अयोध्या व प्रयागराज के मंदिरों की कलाकतियों को संकलित कर 200 घंटों में तैयार की ग्राफिक

BENGALURU/JAMSHEDPUR : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार 10 नवंबर को कर्नाटक के बेंगलुरु स्टेशन से वाराणसी, अयोध्या और प्रयागराज के लिए भारत गौरव काशी यात्रा ट्रेन (Bharat Gaurav Kashi Yatra train) को झंडी दिखाकर रवाना किया. दक्षिण से काशी को जोड़ने वाली इस धार्मिक यात्रा ट्रेन के लिए व्रैप ग्राफ़िक तैयार करने का काम कोल्हान की बेटी नंदिनी सुमन ने किया है. नंदिनी सुमन आदित्यपुर के उद्योगपति गंगा प्रसाद शर्मा की पोती और संजय शर्मा और सुमन शर्मा की बेटी हैं. इनका लौहनगरी से भी गहरा नाता रहा है, कारण यह कि वह शहर की समाजसेवी मीरा शर्मा की भतीजी हैं. ट्रेन की रवानगी के मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि भारत गौरव रेल, देश के आस्था और अध्यात्म के स्थलों को जोड़ने के साथ ही “एक भारत श्रेष्ठ भारत” की भावना को भी मजबूत कर रही है.

कर्नाटक भारत गौरव – काशी दर्शन ट्रेन को सजाने-संवारने से लेकर धार्मिक महत्व को देखते हुए काशी, अयोध्या और प्रयागराज स्थित महत्वपूर्ण मंदिरों के चित्र और कलाकृतिओं से इसे सुशोभित किया गया है. इस कार्य का दायित्व रेलवे ने बेंगलुरु के MMDI कंपनी में दिया था. प्रॉजेक्ट के लिए करीब 16000 स्क्वायर फीट की ट्रेन व्रैप ग्राफ़िक बनाने की ज़िम्मेदारी नंदिनी सुमन को सौंपी गयी थी.

भारत की महान सभ्यता, संस्कृति और गौरवपूर्ण इतिहास को दर्शाने का प्रयास

नंदिनी सुमन ने रेलंहट को बताया कि भारत की महान सभ्यता, संस्कृति और गौरवपूर्ण इतिहास को दर्शाने और धार्मिक जुड़ाव को प्रदर्शित करने के लिए काशी, अयोध्या और प्रयागराज की महत्वपूर्ण मंदिरों के चित्र और कलाकृतियों को संकलित करना पड़ा. इस तरह लगभग 200 घंटों की कड़ी परिश्रम के बाद वह इस ग्राफिक को तैयार कर सकीं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बेंगलुरु स्टेशन से इस ट्रेन को काशी के लिए रवाना किया. इस मौके पर पीएम मोदी के अलावा उपस्थित मंत्रियों और अधिकारियों ने नंदिनी के कार्य की सराहना की. इस ट्रेन की धार्मिक महत्व को देखते हुए हमने इसे काशी , अयोध्या एवम् प्रयागराज स्थित महत्वपूर्ण मंदिरों के चित्र और कलाकृतिओं से सुशोभित करने का निर्णय लिया गया था.

नंदिनी सुमन, ग्राफ़िक डिज़ाइनर

करीब 16000 स्क्वायर फीट की ट्रेन व्रैप ग्राफ़िक के लिए मैंने काशी, अयोध्या और प्रयागराज की महत्वपूर्ण मंदिरों के चित्र और कलाकृतिओं संकलित किया. इस तरह लगभग 200 घंटों की कड़ी परिश्रम के बाद वह इस ग्राफिक को तैयार कर सकी. मेरे कार्य की बहुत ही सराहना की गई. मैं चाहूंगी कि आगे भी अपने देश के विकास कार्यों का हिस्सा बन सकूं.
नंदिनी सुमन, MMDI, बेंगलुरु

एनआईटी डीएवी से की पढ़ाई, NIFT भुवनेश्वर से स्नातक कर शुरू किया ग्राफिक डिजाइनर का कैरियर 

नंदिनी सुमन की बुआ मीरा शर्मा ने बताया कि उनका पूरा परिसर समाज सेवा और आर्ट से जुड़ा है. उनकी एक बहन माधुरी शर्मा दिल्ली में आर्टिस्ट है. आदित्यपुर स्थित एनआईटी डीएवी स्कूल से नंदिनी ने शिक्षा शुरू की. उसकी बचपन से ही कला में दिलचस्पी थी. पेंटिंग सीखने के लिए 8.5 साल का प्रशिक्षण भी लिया. 12वीं की पढ़ाई के बाद NIFT भुवनेश्वर से स्नातक हासिल कर ग्राफ़िक डिज़ाइनर में कैरियर शुरू किया. गूगल, रोल्स रॉयस, क्वेंटेली, टी हब, अलकोन आदि कंपनियों में वह इनवायरन्मेंटल ग्राफ़िक डिज़ाइन एवम् ब्रांड कम्युनिकेशन डिज़ाइन पर काम वह काम कर चुकी है.

#WrapGraphic #BharatGauravTrain #MMDIBengaluru #Indianrail #NandiniSuman #GraphicDesigner #KarnatakaIndiaPride

Spread the love

Latest

You May Also Like

रेलवे न्यूज

AHMEDABAD : अहमदाबाद मंडल रेल प्रबंधक तरुण जैन साहब ने अधिकारियों की पूरी टीम के साथ शनिवार  05.11.2022 की सुबह वटवा लॉबी – यार्ड...

रेलवे यूनियन

इंडियन रेलवे एस एंड टी मैंटेनर्स यूनियन (IRSTMU) ने बतायी बड़ी उपलब्धि नई दिल्ली. टेलीकॉम विभाग में 13.10.2022 से यार्ड स्टिक सिस्टम लागू हो...

न्यूज हंट

इंडियन रेलवे एस एडं टी मैंटेनरर्स यूनियन (IRSTMU) के राष्ट्रीय संरक्षा अधिवेशन में संरक्षा बिंदुओं पर हुआ मंथन सिग्नल एवं दूरसंचार कर्मचारियों की कठिन...

रेलवे यूनियन

SABNARMATI : वेस्टर्न रेलवे एम्प्लॉयज यूनियन की साबरमती शाखा 07 अक्टूबर 2022 को रेल कर्मचारियों की 31 सूत्री मांगों को लेकर की साबरमती रेलवे...