Connect with us

Hi, what are you looking for?

Rail Hunt

ताजा खबरें

यात्रा से पूर्व जान ले रेलवे की गाइडलाइंस, नहीं तो होगी परेशानी

रेलहंट ब्यूरो, नई दिल्ली

रेलवे ने कोरोना के संक्रमण के बीच 12 मई से विशेष ट्रेनों की सेवा शुरू कर दी है. 15 जोड़ी जो ट्रेनें चलायी जा रही है वह नई दिल्ली से डिब्रूगढ़, अगरतला, हावड़ा, पटना, बिलासपुर, रांची, भुवनेश्वर, सिकंदराबाद, बेंगलुरु, चेन्नई, तिरुवनंतपुरम, मडगांव, मुंबई सेंट्रल, अहमदाबाद और जम्मू-तवी जायेंगी. यात्रियों के लिए गृह मंत्रालय की गाइडलाइंस के अनुसार रेलवे ने एडवाइजरी जारी की है. इसमें कुछ नियमों का पालन करने की चेतावनी यात्रियों को दी गयी है. यात्रियों को इसका ध्यान रखते हुए उसका पालन करना होगा. नियम नहीं जानने पर आपको परेशानी हो सकती है.

  • रेल यात्रियों को गाड़ी छूटने से 90 मिनट पहले स्टेशन पहुंचना होगा. स्टेशन के अंदर वैध टिकट और प्रमाण पत्र रहने के बाद ही प्रवेश की अनुमति मिलेगी. यात्रियों के मोबाइल में आरोग्य सेतु एप जरूर होना चाहिए.
  • स्टेशन में प्रवेश के बाद यात्रियों की स्क्रीनिंग की जाएगी. अगर कोई यात्री संक्रमित पाया जाता है, तो उन्हें यात्रा करने की अनुमति नहीं होगी. यात्रियों की स्क्रीनिंग करने के बाद उन्हें सैनिटाइज किया जाएगा.
  • रेल के अंदर टीटीई नहीं होंगे. आपके टिकट की जांच स्टेशन पर ही कर ली जाएगी. रेल में प्रवेश और निकास के समय यात्रियों को हैंड सैनिटाइजर दिया जाएगा.
  • रेल यात्रियों को मास्क पहनना अनिवार्य है. अगर रेल में कोई सहायक कर्मचारी है तो उन्हें मास्क और दस्ताने दोनों पहनने होंगे.
  • रेल के अंदर किसी बाहरी को प्रवेश की अनुमति नहीं होगी. वरिष्ठ नागरिकों को यात्रा नहीं करने की सलाह दी गई है. यात्रियों को 12 घंटे पहले सेहत की जानकारी रेलवे को देनी होगी.
  • रेल में केवल वातानुकूलित कोच (AC ) होगी और गाड़ी केवल चुनिंदा स्टेशनों पर ही रुकेगी.
  • रेल टिकट केवल और केवल इंडियन रेलवे टूरिज्‍म एंड कैटरिंग कॉर्पोरेशन (IRCTC) के साइट्स से ही खरीदे जा सकते हैं. यात्रा की टिकट सात दिन पहले मिलेगी. वहीं, यात्रा के लिए आरएसी और वेटिंग टिकट जारी नहीं किया जाएगा.
  • यात्रियों को खाना और पानी लेकर जाना होगा. यात्री अपनी यात्रा के दौरान पैसे देकर केवल पानी ही खरीद पाएंगे. वातानुकूलित कोच होने के बावजूद चादर और कंबल नहीं दिए जाएंगे.
  • गंतव्य स्टेशन पर उतरने के बाद यात्रियों की स्क्रीनिंग की जाएगी. फिर सैनिटाइज किया जाएगा. इसके बाद यात्रियों को राज्य सरकार के नियमों के अनुसार 14 या 21 दिनों के लिए क्‍वारंटाइन में रहना पड़ेगा.

Spread the love

You May Also Like

ताजा खबरें

सबसे अधिक पद नॉदर्न रेलवे में 2350 किये जायेंगे सरेंडर, उसके बाद सेंट्रल रेलवे में 1200 ग्रुप ‘सी’ और ‘डी’ श्रेणी के पद सरेंडर...

गपशप

डीआईजी अखिलेश चंद्रा ने सीनियरिटी तोड़कर प्रमोशन देने का लगाया आरोप नई दिल्ली. रेलवे सुरक्षा बल में अपने सख्त व विवादास्पद निर्णय के लिए...

ताजा खबरें

मोदी सरकार के शपथ ग्रहण के दिन ही जारी लखनऊ डीआरएम ने दिया टारगेट विभागों के आउटसोर्स करने से खाली पदों पर सरेंडर करने...

विचार

राकेश शर्मा निशीथ. देश के निरंतर विकास में सुचारु व समन्वित परिवहन प्रणाली की महत्वपूर्ण भूमिका होती है. वर्तमान प्रणाली में यातायात के अनेक साधन,...