Connect with us

Hi, what are you looking for?

Rail Hunt

देश-दुनिया

चक्रधरपुर : दोस्ताना व्यवहार से रेलकर्मियों को अभिभूत कर गये लोहानी

  • रेलवे बोर्ड चेयरमैन ने चक्रधरपुर मंडल के नोवामुंडी सेक्शन का किया निरीक्षण
  • रेलकर्मियेां की समस्याओं, कालोनियों की स्थिति जानी, सुझावों को दिखायी गंभीरता
  • संरक्षा उपायों को अपनाकर लोडिंग में बढ़ोतरी और राजस्व में इजाफा करने का निर्देश
  • विभागीय बहाली में 10 फ़ीसदी पद ट्रैक मैन के लिए आरक्षित  : लोहानी

चक्रधरपुर में रेलकर्मियों से मिलते सीआइबी लोहानी

रांची से नूतन. रेलवे में भ्रष्टाचार व वीआइपी संस्कृति को खत्म करने की मुहिम शुरू करने वाले चेयरमैन अश्विनी लोहानी ने रविवार को अपने दोस्ताना व्यवहार से चक्रधरपुर रेलमंडल के पदाधिकारी व कर्मचारियों को अभिभूत कर दिया. अपने चिर-परिचित अंदाज चैयरमैन लोहानी रेलकर्मियों से मिले और उन्हें सुरक्षा-संरक्षा के साथ ईमानदारी से ड्यूटी पालन करने का मंत्र दिया. चक्रधरपुर पहुंचने पर डीआरएम छत्रसाल सिंह की अगुवाई में पदाधिकारियों ने उनका स्वागत किया. यहां लोहानी ने महिला लोको पायलट, स्टेशन मैनेजर और अन्य रेलकर्मियों से हाथ मिलाकर उनका परिचय जाना. निरीक्षण के क्रम में डांगुवापोसी व नोवामुंडी में भी चेयरमैन ने रेलकर्मियों से बात की और उनकी समस्याओं को जाना. रेलकर्मियों के सुझावों को भी सुनने में लोहानी ने गंभीरता दिखायी. ट्रैकमैनों से बातचीत कर उनकी परेशानी जानी और नयी बहाली में 10 फीसदी पद ट्रैकमैन से भरने के लिए दिशा निर्देश दिए जाने की बात कही . निरीक्षण के क्रम में डांगुवापोसी में चेयरमैन ने पौधरोपण किया और रेलकर्मियों की समस्याओं को जाना.

विंडो निरीक्षण में ट्रैक, सिग्नल, फाटक, पुलिया, ब्रिज, थर्ड लाइन पर रही नजर

निरीक्षण को डीपीएस पहुंचे लोहानी

चेयरमैन अश्विनी लोहाली लगभग 12 बजे दक्षिण पूर्व रेलवे के एजीएम अनिर्बान दत्ता, डीआरएम छत्रसाल सिंह सहित अन्य पदाधिकारियों के साथ इंस्पेक्शन स्पेशल से नोवामुंडी के लिए रवाना हुए. पंडरासाली से विंडो इंस्पेशन में चेयरमैन ने रेल लाइन, सिग्नल, रेलवे फाटक, रेल पुलिया, ब्रिज, थर्ड लाइन, स्टेशनों के बारे में डीआरएम से जानकारी ली. तालाबुरू स्टेशन पर उतरकर चेयरमैन ने यात्री सुविधाओं की जानकारी भी ली. नोवामुंडी में चेयरमैन ने 30 ट्रैकमैन को सेफ्टी उपकरण जूता, हेलमेट और रेनकोट दिया. रेलवे बोर्ड के चेयरमैन अश्वनी लोहानी ने रविवार को चक्रधरपुर रेल मंडल के दौरे में पदाधिकारियों को स्पष्ट संदेश दिया संरक्षा को बहाल रखते हुए राजस्व बढ़ोतरी के हर मुमकीन उपाय किये जाये. लोहानी ने निरीक्षण के बाद लंबित योजनाओं की प्रगति, आधारभूत संरचना, ढांचागत विकास और यात्री सुविधाओं पर नजर रखी. सीआरबी श्री लोहानी नई दिल्ली से रांची होते हुए सड़क मार्ग में चक्रधरपुर सुबह 11.45 बजे पहुंचे थे.

बड़ी संख्या में होगी बहाली, डीआरएम को दिया है पावर नहीं होगी तबादलों में परेशानी

कंपनी प्रतिनिधियों से मिलते लोहानी

रेलवे यूनियनों से बातचीत में सीआरबी लोहानी ने कहा कि सभी विभागों के 10 प्रतिशत रिक्त पदों को ट्रैकमेनों से भरा जायेगा. इसका निर्णय लिया जा चुका है. रेलवे में भारी संख्या में ग्रुप डी कर्मचारियों की बहाली होगी. जिससे ग्रुप डी कर्मचारियों के रिक्त पदों को भरा जायेगा. लोहानी ने कहा कि रेल कर्मचारियों के तबादला में अब कोई परेशानी नहीं होगी. रेलवे में वेबसाइट तैयार हो रहा है, जो कर्मचारियों को सभी जानकारी उपलब्ध करायेगा. इस मौके पर रेलवे यूनियनों के पदाधिकारियों ने भी चेयरमैन से मिलकर रेलकर्मियों की समस्याओं और मांगों को रखा. चक्रधरपुर में लोहानी ने औद्योगिक इकाईयों के प्रतिनिधियेां व व्यवसायियों के प्रतिनिधिमंडल से भी मिले और उनकी मांगों पर सार्थक पहल का आश्वासन दिया.

डीपीएस में ऑपरेटिंग को उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए 50000 पुरस्कार की घोषणा

नोवामुंडी में सेफ्टी उपकरण देते लोहानी

डांगुवापोसी स्टेशन पर पहली बार रेलवे बोर्ड के किसी चेयरमैन का आगमन हुआ. यहां दक्षिण पूर्व रेलवे मेंस कांग्रेस ने चेयरमैन का शॉल ओढ़ाकर स्वागत किया और सचिव सुभाष मुजुमदार की अगुवाई में पांच सूत्री मांगपत्र भी सौंपा. मोंस कांग्रेस की मांगों में केंद्रीय विद्यालय की स्थापना, रेलवे अस्पताल का विस्तारीकरण, बंद एम्बुलेंस सेवा को शुरू करने, पैदल पुल का सिक लाइन तक विस्तार करने और 367 ऑपरेटिंग गेट पर एलएचइस या फुट ओवरब्रिज का निर्माण कराने की मांग शामिल है. यहां लोहानी ने प्लेटफॉर्म, सामुदायिक भवन, सारंडा कॉलोनी के चिल्ड्रन पार्क एवं केंद्रीय विद्यालय के प्रस्तावित स्थल का निरीक्षण किया. सामुदायिक भवन में लोहानी ने पौधरोपण भी किया. चेयरमैन ने आज की तारीख में जन्म लेनेवाले रेलकर्मियों को शुभकामना पत्र देकर सम्मानित किया. इसमें कैरेज एंड वैगन के सुभाष मजूमदार, इंजीनियरिंग के पत्रास तिरिया एवम संदीप मंडल शामिल थे. डांगुवापोसी में लोहानी ने परिचालन विभाग को उनके उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए 50000 रुपए पुरस्कार स्वरूप देने की घोषणा भी की. चेयरमैन का स्वागत करने वालो में मेंस कांग्रेस के सचिव सुभाष मजूमदार, जयप्रकाश दास, के श्रीनिवास राव, प्रदीप शर्मा, शिवपाल बिरुआ, आई वी लेंका आदि शामिल थे.

डीसी लाइन को फिर से शुरू करने की संभावना से इनकार

डीपीएस में रेलवे मेंस कांग्रेस ने सौंपा स्मार पत्र

रांची हवाइ्र अड्डा पर बातचीत में चेयरमैन अश्विनी लोहानी ने धनबाद-चंद्रपुरार लाइन को फिर से शुरू करने की संभावनाओं से इनकार किया है. उन्हें सुरक्षा कारणों में इस लाइन को खतरनाक बताया और कहा कि फिलहाल इसकी योजना नहीं है. हालांकि चेयरमैन ने रांची-टोरी लाइन पर जल्द ही मेमू ट्रेन की सेवा शुरू करने की बात कही. रांची में रेलवे का जोनल कार्यालय स्थापित करने की संभावनओां से भी फिलहाल सीआरबी ने इनकार किया.

एक हजार किमी लाइन बिछायी जायेगी : लोहानी 

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन अश्वनी लोहानी ने चक्रधरपुर में संवाददाताओं से कहा कि चक्रधरपुर रेल मंडल में माल लोडिंग की संभावना है. नयी तीसरी रेल लाइन इसके विस्तार का पाटॅ है. भारतीय रेल में ट्रैक का नवीनीकरण हुआ है 500 किमी ट्रैक का नवीनीकरण कर क्षमता बढ़ायी जायेगी. कोच में सीसीटीवी कैमरे लगाने की प्रक्रिया चल रही है. 1000 किलोमीटर नई रेल लाइन बिछाऐंगे. कर्मचारियों की समस्याओं को संज्ञान में लिया गया है. उन्हें दूर करने की पहल होगी. इस मौके पर दपू रेलवे के एजीएम ए दत्ता, डीआरएम छत्रसाल सिंह, सीनियर डीसीएम श्री भास्कर समेत दपू रेलवे के जोनल व मंडल के अधिकारी मौजूद थे

Spread the love

Latest

You May Also Like

रेलवे यूनियन

इंडियन रेलवे सिग्नल एंड टेलीकॉम मैन्टेनर्स यूनियन ने तेज किया अभियान, रेलवे बोर्ड में पदाधिकारियों से की चर्चा  नई दिल्ली. सिग्नल और दूरसंचार विभाग के...

रेलवे यूनियन

नडियाद में IRSTMU और AIRF के संयुक्त अधिवेशन में सिग्नल एवं दूर संचार कर्मचारियों के हितों पर हुआ मंथन IRSTMU ने कर्मचारियों की कठिन...

रेलवे यूनियन

IRSTMU – AIRF  के संयुक्त अधिवेशन में WREU के महासचिव ने पुरानी पेंशन योजना लागू करने की वकालत की  नडियाद के सभागार में पांचवी...

न्यूज हंट

KOTA. मोबाइल के उपयोग को संरक्षा के लिए बड़ा खतरा मान रहे रेल प्रशासन लगातार रनिंग कर्मचारियों पर सख्ती बरतने लगा है. रेल प्रशासन...