Connect with us

Hi, what are you looking for?

Rail Hunt

रेलवे न्यूज

सीबीआई ने 1.80 लाख की रिश्वत लेते सीनियर डीएसटीई और चीफ ओएस को गिरफ्तार किया

नई दिल्ली. केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने उत्तर रेलवे के अंबाला कैंट डीआरएम कार्यालय से 1.80 लाख की रिश्वत लेने के आरोप में IRSSE 2010 बैच के एक वरिष्ठ मंडल सिग्नल और दूरसंचार इंजीनियर (SrDSTE) विवेक लंगायन और मुख्य कार्यालय अधीक्षक (ChOS)  प्रवीण कुमार को गिरफ्तार किया है. उनके खिलाफ रिश्वत मांगने की शिकायत दर्ज करायी गयी थी. इसके बाद सीबीआई ने यह कार्रवाई की.

शिकायत में रेलवे ठेकेदार ने बताया था कि पंजाब और हरियाणा में 92 लाख और 1.15 करोड़ की खुली निविदा के माध्यम से दो अनुबंध दिए गए थे और परियोजना/अनुबंध के पूरा होने के बाद उन्होंने संशोधित अनुमान प्रस्तुत किया था.

आरोप लगाया था कि मुख्य कार्यालय अधीक्षक ने संशोधित अनुमानों के अनुमोदन के बदले रिश्वत की मांग की जो कि वरिष्ठ मंडलीय सिग्नल और दूरसंचार अभियंता की ओर से सकल अनुबंध मूल्य का 2% था.

सीबीआई ने जाल बिछाया और शिकायतकर्ता से 1,80,000/- की रिश्वत मांगते और स्वीकार करते हुए आरोपी को पकड़ लिया. सीबीआई के प्रवक्ता आरसी जोशी ने मीडिया को बताया कि अंबाला में दोनों आरोपियों के आवासीय और कार्यालय परिसरों की तलाशी ली गई, जिसमें आपत्तिजनक दस्तावेज बरामद हुए. गिरफ्तार दोनों आरोपियों को बुधवार को पंचकूला की सक्षम अदालत में पेश किया जा रहा है.

Source: #CBI press release. https://cbi.gov.in/press-detail/NTA4NA==#:~:text=CBI%20ARRESTS%20A,Court%20at%20Panchkula.

 

Spread the love

Latest

You May Also Like

रेलवे यूनियन

इंडियन रेलवे सिग्नल एंड टेलीकॉम मैन्टेनर्स यूनियन ने तेज किया अभियान, रेलवे बोर्ड में पदाधिकारियों से की चर्चा  नई दिल्ली. सिग्नल और दूरसंचार विभाग के...

रेलवे यूनियन

नडियाद में IRSTMU और AIRF के संयुक्त अधिवेशन में सिग्नल एवं दूर संचार कर्मचारियों के हितों पर हुआ मंथन IRSTMU ने कर्मचारियों की कठिन...

न्यूज हंट

राउरकेला से टाटा तक अवैध गतिविधियों पर सीआईबी इंस्पेक्टरों का मौन सिस्टम के लिए घातक   सब इंस्पेक्टर को एडहक इंस्पेक्टर बनाकर एक साल से...

रेलवे जोन / बोर्ड

ECR CFTM संजय कुमार की छह लाख रुपये घूस लेने के क्रम में हुई थी गिरफ्तारी जांच के क्रम में  SrDOM समस्तीपुर व सोनपुर को...