Connect with us

Hi, what are you looking for?

Rail Hunt

देश-दुनिया

संरक्षा-सुरक्षा व कर्मचारी कल्याण को प्राथमिकता देने में अहमदाबाद डिवीजन अव्वल : सीनियर डीएसटी

  • इंडियन रेलवे एस एडं टी मैन्टेनर्स यूनियन ने वीडिओ कान्फ्रेंसिंग से की मंडल संरक्षा सेमिनार, कई गंभीर मुद्ददों पर चर्चा 
  • रोड साईड स्टेशनों पर रेलवे ट्रैक किनारे पैदल चलने वालों की परेशानी पर डीआरएम भी गंभीर, जल्द हो सकता है निर्णय 

रेलहंट ब्यूरो, अहमदाबाद

इंडियन रेलवे एस एडं टी मैन्टेनर्स यूनियन की ओर से मंडल संरक्षा वीडिओ कान्फ्रेंस का आयोजन किया गया. सम्मेलन का संचालन करते हुए संगठन के महासचिव आलोक चंद्र प्रकाश ने बताया कि कोरोना की महामारी के इस काल में भी हम कर्मचारियों की विभिन्न समस्याओं पर गंभीरतापूर्वक कार्य कर रहे हैं तथा लगातार ही वीडिओ कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से अपनी समस्याओं को अधिकारियों तक पहुंचा ही नहीं रहे हैं बल्कि उसके ठोस समाधान के लिए प्रयास कर रहे हैं.

सम्मेलन के मुख्य अतिथि के रूप में अहमदाबाद मंडल के सीनियर डीएसटी आशीष तिवारी ने कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कहा कि अहमदाबाद मंडल संरक्षा और सुरक्षा के साथ कर्मचारी कल्याण को प्राथमिकता देने का प्रयास कर रहा है. इसी कड़ी में इतिहास में पहली बार सहायकों/हेल्परों को एलडीसीई के माध्यम से तकनीशियन बनने का अवसर प्रदान किया जा रहा है. अपने संबोधन में सीनियर डीएसटी ने यूनियन के कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ाया और उन्हें बेहतर पहल करते रहने के लिए प्रोत्साहित किया.कर्मचारियों से सीधे बात करते हुए उन्होंने समय-समय पर इस प्रकार के आयोजन पर बल देते हुए कहा कि कोई भी कर्मचारी कभी भी मोबाइल फोन पर बात करते वक्त रनिंग रेलवे ट्रैक से दूर रह कर ही बात करे. छोटी-छोटी सावधानियों को अमल में लाकर हम रेलवे को संरक्षा और सुरक्षा तो प्रदान कर ही सकते है साथ ही खुद को भी सुरक्षित रख सकते हैं.

यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नवीन कुमार ने अहमदाबाद मंडल के कर्मचारियों की ओर से ही नहीं अपितु पूरे भारतीय रेलवे के एस एडं टी कर्मचारियों की ओर से सीनियर डीएसटी को धन्यवाद देते हुए बताया अभी तक मात्र चार मंडलों में ही सहायकों/हेल्परों को एलडीसीई के माध्यम से तकनीशियन बनने का अवसर प्राप्त हुआ है और अहमदाबाद मंडल भी इस क्रम में अग्रणी रहा है.

भोपाल से राष्ट्रीय सह कोषाध्यक्ष प्रबोध श्रीवास्तव ने बताया कि पूरे अहमदाबाद मंडल में सिग्नल और टेलीकॉम विभाग के ऑफिसों में कर्मचारियों को पीने के लिए शुद्ध पेयजल उपलब्ध नहीं था परन्तु सीनियर डीएसटी आशीष तिवारी के प्रयासों से लगभग सभी डीपो में आरओ का पानी उपलब्ध हुआ. इसके अलावा लगभग सभी कर्मचारियों को वीनटर जैकेट, सेफ्टी जैकेट, सेफ्टी सूज, टार्च से सुसज्जित हेल्मेट, रेन कोर्ट 2019 में दिया गया. यह सब ऐतिहासिक है तथा भविष्य में भी इसी प्रकार हम कर्मचारियो को सुविधाएं मिलती रहें ऐसी कामना करते हैं.

संगठन की ओर से कमलेश चौहान ने सुझाव देते हुए कहा की रोड साईड स्टेशनों पर एक छोर से दूसरे छोर तक जाने में काफ़ी समस्या होती है इसके समाधान के लिए रेलवे ट्रैक के किनारे पर पैदल चलने के लिए छोटी पगडंडी बनाई जाए तो इससे फ्लेयर के समय एक छोर से दूसरे छोर तक जाना सुगम हो जाएगा और डिटेशन भी बचेगा. इस पर मुख्य अतिथि आशीष तिवारी ने आश्वासन देते हुए कहा कि यह समस्या ना फिर केवल एस एडं टी स्टाफ के साथ है बल्कि दूसरे विभाग के कर्मचारियों को भी इस समस्या से जूझना पड़ता है यहाँ तक की बारिश के दिनों में कुछ स्टेशन जैसे इंद्रानगर तक रेलवे ट्रैक के अलावा कोई रास्ता नहीं होता पहुँचने का, जिसे खुद डीआरएम महोदय ने भी संज्ञान में ले रखा है तथा बहुत ही जल्द इस पर ठोस कदम उठाया जाएगा. सम्मेलन में अहमदाबाद मंडल के सभी डीपो के कर्मचारियों ने शिरकत की इसके अलावा राष्ट्रीय टीम के आगरा से भुवनेश्वर लाल मीना, लखनऊ से राम बदन, दिल्ली से रेवती रमण, चेन्नई से एम गणेश, बीकानेर से जगदीश बेनीवाल मुख्य रूप से शामिल हुए.

सूचनाओं पर आधारित समाचार में किसी सूचना अथवा टिप्पणी का स्वागत है, आप हमें मेल railnewshunt@gmail.com या वाट्सएप 6202266708 पर अपनी प्रतिक्रिया भेज सकते हैं.

Spread the love

Latest

You May Also Like

रेलवे यूनियन

इंडियन रेलवे सिग्नल एंड टेलीकॉम मैन्टेनर्स यूनियन ने तेज किया अभियान, रेलवे बोर्ड में पदाधिकारियों से की चर्चा  नई दिल्ली. सिग्नल और दूरसंचार विभाग के...

रेलवे यूनियन

नडियाद में IRSTMU और AIRF के संयुक्त अधिवेशन में सिग्नल एवं दूर संचार कर्मचारियों के हितों पर हुआ मंथन IRSTMU ने कर्मचारियों की कठिन...

रेलवे यूनियन

IRSTMU – AIRF  के संयुक्त अधिवेशन में WREU के महासचिव ने पुरानी पेंशन योजना लागू करने की वकालत की  नडियाद के सभागार में पांचवी...

न्यूज हंट

KOTA. मोबाइल के उपयोग को संरक्षा के लिए बड़ा खतरा मान रहे रेल प्रशासन लगातार रनिंग कर्मचारियों पर सख्ती बरतने लगा है. रेल प्रशासन...