Connect with us

Hi, what are you looking for?

Rail Hunt

रेलवे न्यूज

टाटा-रांची-वाराणसी चल सकती है वंदे भारत एक्सप्रेस, जाने…रेलवे की क्या है तैयारी

टाटा-रांची-वाराणसी चल सकती है वंदे भारत एक्सप्रेस, जाने...रेलवे की क्या है तैयारी
  • चक्रधरपुर डीआरएम ने भी वंदे भारत के सर्वे की बात कही है  
  • टाटानगर-पटना के बीच वंदे भारत ट्रेन देने की मांग हो रही है  
  • रांची-पटना के बीच झारखंड को पहली वंदे भारत चल रही है  

Vande Bharat Express : झारखंड को एक और वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन की मिलने की संभावना बनने लगी है. नयी ट्रेन टाटानगर से तीर्थनगर वाराणसी के बीच चलेगी. रेलवे बोर्ड के आदेश पर इसके लिए ऑपरेशनल सर्वे शुरू कराया गया है. इस मामले में 15 दिन में दक्षिण पूर्व रेलवे जोन से रिपोर्ट मांगी गयी है. वहीं रांची से वाराणसी के बीच भी वंदे भारत चलाने के लिए सर्वे कराया जा रहा है.

रेलवे सूत्रों के अनुसार वंदे यह भी संभव है कि टाटानगर रांची होते ही वाराणसी तक वंदे भारत चलाने की संभावनाएं तलाशी जा रही है. रांची से वंदे भारत ट्रेन लोहरदगा, डालटनगंज, सासाराम और भभुआ होकर वाराणसी तक जायेगी. इस ट्रेन को झारखंड, बिहार से लेकर उत्तर प्रदेश को जोड़ने की संभावना तलाशी जा रही है.

टाटा-रांची-वाराणसी चल सकती है वंदे भारत एक्सप्रेस, जाने...रेलवे की क्या है तैयारीरेलवे बोर्ड से मिले संकेत के बाद दक्षिण पूर्व रेलवे प्रशासन इसके लिए तैयारियां शुरू कर चुका है. मीडिया आ रही रिपोर्ट के बाद चक्रधरपुर डीआरएम अरुण जादोह राठौड़ ने भी इस दिशा में पहले होने के संकेत दिये हैं. हालांक अंतिम फैसला  सर्वे के बाद ही रेलवे बाेर्ड को लेना है. इस पर अब तक कोई अंतिम निर्णय नहीं हुआ है.

जमशेदपुर को वाराणसी से जोड़ने के प्रस्ताव में रांची मध्यवर्ती स्टेशन होगा. हालांकि रांची से पटना के बीच फिलहाल वंदे भारत ट्रेन चल रही है जो झारखंड की पहली वंदे भारत ट्रेन हैं. नयी वंदे भारत से टाटा से रांची जाने वाले अथवा सीधे वाराणसी जाने वालों को फायदा होगा. यह ट्रेन टाटा से वाया पुरुलिया- बोकारो- गोमो-पंडित दीनदयाल उपाध्याय-वाराणसी होकर चलाने की तैयारी है.

ट्रेन के ठहराव अथवा दूसर बिंदुओं पर अभी सिर्फ कयास लगाये जा रहे हैं. टाटानगर से चलने वाली वंदे भारत को लेकर अब तक कोई स्पष्ट रूप-रेखा सामने नहीं आया है. हां चक्रधरपुर डीआरएम ने यह जरूर माना है कि इस दिशा में पहल चल ही है लेकिन यह कब तक जमीनी स्तर पर सामने आयेगा यह देखने वाली बात होगी.

उधर, टाटानगर से पटना के लिए लगातार वंदे भारत ट्रेन चलाने की मांग की जा रही है. इस दिशा में स्थानीय सांसद विद्युत वरण महतो भी कई बार लोगों ने स्मार पत्र देकर यह मामला रेलमंत्री स्तर पर उठाने की मांग की है. वरिष्ठ पत्रकार प्रदीप चंद केशव ने रेलमंत्री व पीएमओ के साथ सांसद विद्युत वरण महतो, मंत्री अर्जुन मुंडा व दूसरे विधायकों व रेलवे अधिकारियों को ट्ववीट कर अपनी बात रखी है.

टेलीग्राम चैनल से जुड़े : TELEGRAM/RAILHUNT

वाट्सएप ग्रुप से जुड़ें, क्लिक करें : RAILHUNT

Spread the love
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest

You May Also Like

न्यूज हंट

इंजीनियरिंग में गेटमैन था पवन कुमार राउत, सीनियर डीओएम के घर में कर रहा था ड्यूटी  DHANBAD. दो दिनों से लापता रेलवे गेटमैन पवन...

रेल यात्री

PATNA.  ट्रेन नंबर 18183 व 18184 टाटा-आरा-टाटा सुपरफास्ट एक्सप्रेस आरा की जगह अब बक्सर तक जायेगी. इसकी समय-सारणी भी रेलवे ने जारी कर दी है....

न्यूज हंट

 JAMSHEDPUR. 18183 टाटा-आरा एक्सप्रेस अब बक्सर तक जायेगी. रेलवे बोर्ड ने इस आदेश को हरी झंडी दे दी है. इस आशय का आदेश जारी...

न्यूज हंट

बढ़ेगा वेतन व भत्ता, जूनियनों को प्रमोशन का मिलेगा अवसर  CHAKRADHARPUR.  दक्षिण पूर्व रेलवे के अंतर्गत चक्रधरपुर रेलमंडल पर्सनल विभाग ने टिकट निरीक्षकों की...