ताजा खबरें न्यूज हंट रेलवे जोन / बोर्ड

मंबई : रेलवे की परीक्षा में बाहरी युवकों को रोकने का मनसे प्रमुख ने दिया निर्देश

  • फेसबुक पर पोस्ट लिखकर कार्यकर्ताओं को भड़काया, पोस्ट में रेलवे के खिलाफ चलाए गए पुराने आंदोलन का भी जिक्र

मुंबई. लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने की घोषणा करने वाले महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना(मनसे) प्रमुख राज ठाकरे फिर एक बार मराठी और गैरमराठी के विवाद में कूद गए हैं. रेलवे भर्ती परीक्षा को लेकर ठाकरे ने अपने कार्यकर्ताओं को निर्देश दिया है कि वे इस बात पर खास ध्यान रखें कि महाराष्ट्र में होने वाली किसी भी रेलवे भर्ती परीक्षा में कोई भी बाहरी शामिल न पाए. मंगलवार को एक फेसबुक पोस्ट में राज ने लिखा,”महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने 2008 में रेलवे भर्ती में मराठी बच्चों के साथ हुए अन्याय के खिलाफ एक बड़ा आंदोलन किया था, उस विरोध का नतीजा यह हुआ कि रेलवे भर्ती परीक्षाओं के विज्ञापन स्थानीय अखबारों में आने लगे और यह राज्य की स्थानीय भाषा में भी परीक्षा ली जाने लगी, इसके साथ ही नौकरी चुनने के लिए स्थानीय भाषा का आना भी अनिवार्य कर दिया गया. यह महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के आंदोलन की जीत थी.”

राज ठाकरे ने आगे लिखा, आने वाले समय में रेलवे में बड़ी भर्तियां आने वाली है. मेरे मराठी युवाओं को इस रेलवे का फायदा उठाना चाहिए. लेकिन इसके लिए फॉर्म कैसे भरना है, कैसे तैयार करना है उन्हें इसका पता होना चाहिए. मेरी पार्टी आपकी इस ओर सहायता करेगी. पार्टी के नेता अभिजीत पानसे ने एक वीडियो तैयार किया है. इसमें 20 मिनट में कैसे रेलवे परीक्षा के लिए आप तैयार हो सकते हैं, कैसे फॉर्म भरना है और परीक्षा की तैयारी कैसी करे यह बताया गया है.” इसके बाद राज ठाकरे ने लिखा है,” पढ़ाई करो सफलता आपको मिलगी. अगर कोई समस्या है तो महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना आपके पीछे है.” और अंत में राज ठाकरे ने लिखा है,”इस भर्ती में(रेलवे की भर्ती) में सिर्फ मराठी लड़की-लड़कों को नौकरी मिले यह महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के सैनिकों का लक्ष्य होना चाहिए.” दरअसल, कुछ दिन पहले रेल मंत्री पीयूष गोयल ने घोषणा की थी कि इस साल रेलवे में हजारों पदों के लिए भर्ती की जाएगी.

सभार : भास्कर

Spread the love

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *