Connect with us

Hi, what are you looking for?

Rail Hunt

न्यूज हंट

खड़गपुर रेलवे स्टेशन पर जिंगल आधारित ऑडियो अनाउंसमेंट सिस्टम का डीआरएम ने किया उद्घाटन

खड़गपुर रेलवे स्टेशन पर जिंगल आधारित ऑडियो अनाउंसमेंट सिस्टम का डीआरएम ने किया उद्घाटन

KHARAGPUR.  खड़गपुर के मंडल रेल प्रबंधक एम.एस. हाशमी ने गुरुवार को खड़गपुर स्टेशन पर जिंगल आधारित ऑडियो अनाउंसमेंट सिस्टम का उद्घाटन किया. घोषणा प्रणाली सुविधा के माध्यम से आईपीआईएस और ऑडियो विज्ञापनों के साथ एकीकृत निंजा रेस एनटीईएस का उद्घाटन खड़गपुर स्टेशन के आरआरआई पैनल रूम में एडीआरएम खड़गपुर, सीनियर डीसीएम खड़गपुर और अन्य शाखा अधिकारियों की उपस्थिति में डीआरएम खड़गपुर द्वारा रिबन काटकर किया गया. एजेंसी ने सिस्टम के कामकाज के बारे में एक प्रेजेंटेशन भी दिया.

खड़गपुर मंडल ने पहली बार यात्री घोषणा प्रणाली के माध्यम से 16 स्टेशनों पर विज्ञापन जिंगल बजाने का अनुबंध दिया है. इस मंडल के स्टेशनों (शालीमार, टिकियापारा, संतरागाछी, अंा दुल, बाउरिया, उलुबेरिया, बागनान, मेचेदा, पांशकुड़ा , दीघा, खड़गपुर, मेदिनीपुर, झाड़ग्राम, घाटशिला, हिजली और बालासोर) पर अधिकतम 20-सेकंड की अवधि के साथ मौजूदा पैसेंजर अनाउंसमेंट सिस्टम में ट्रेन के आगमन/प्रस्थान की घोषणा से पहले और बाद में घोषणा की जायेगी. यह पहली एपीआई आधारित तकनीक है जिसका भारतीय रेलवे में इस्तेमाल होने जा रहा है।
यह अनुबंध निंजा मीडिया क्रिएशन्स-चेन्नई द्वारा 05 वर्षों के लिए अधिग्रहण किया गया है, जिसका वार्षिक लाइसेंस शुल्क रु 8.05 लाख प्रति वर्ष होगा. 16 स्टेशनों के लिए कुल अनुबंध मूल्य 47,49,500 रुपये होगा.

खड़गपुर रेलवे स्टेशन पर जिंगल आधारित ऑडियो अनाउंसमेंट सिस्टम का डीआरएम ने किया उद्घाटन

मंडल रेल प्रबंधक ने किया नए सिस्टम का उद्घाट

यह अनुबंध आईपीआईएस के साथ एनटीईएस के एकीकरण के लिए है ताकि ट्रेन आगमन समय और ट्रेनों की लाइव ट्रैकिंग को स्वचालित किया जा सके और ट्रेन की जानकारी और कोच स्थिति घोषणाओं के लिए पीए सिस्टम में सीआरआईएस से स्वचालित रूप से कोच स्थिति डेटा प्राप्त किया जा सके. यह प्रणाली एक ही डैशबोर्ड से सभी स्टेशनों पर महत्वपूर्ण रेलवे सूचना भेजने के लिए क्लाउड तकनीक के साथ भी एकीकृत है. वाणिज्यिक विज्ञापनों के लिए सॉफ्टवेयर (जिंगल्स) लाइसेंसधारी द्वारा अपने खर्चे पर उपलब्ध कराया जाएगा और यह स्टेशनों पर मौजूदा यात्री उद्घोषणा प्रणाली के अनुकूल होगा.

डीआरएम खड़गपुर और सीनियर डीसीएम खड़गपुर ने भी आयोजन के बाद मीडियाकर्मियों को जानकारी दी और कहा कि मंडल गैर-पारंपरिक और अभिनव योजनाओं के माध्यम से राजस्व सृजन पर ध्यान केंद्रित कर रहा है जो रेल उपयोगकर्ताओं के साथ-साथ रेलवे दोनों के लिए फायदेमंद होगा. इस नई पहल से मंडल की गैर-किराया राजस्व आय को भी बढ़ावा मिलेगा. रेलवे इंफ्रास्ट्रक्चर और हार्डवेयर/सॉफ्टवेयर की खरीद और रखरखाव की भारी लागत को भी बचाएगा। कोई भी जो अपने अभिनव प्रस्तावों या विचारों के साथ रेलवे के साथ हाथ मिलाना चाहता है, सीनियर डीसीएम खड़गपुर कार्यालय से संपर्क कर सकता है.

Spread the love

Latest

You May Also Like

न्यूज हंट

रेलवे का खाना बना जहर ! 109 यात्रियों की बिगड़ी तबीयत, सबक लेने को तैयार नहीं रेलवे अधिकारी दोनों स्टेशनों पर अवैध वेंडर की...

न्यूज हंट

रेलवे में सिग्नल एवं दूरसंचार कर्मचारियों को काम करने में कई प्रकार से दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. ट्रैफिक कंट्रोल द्वारा सिग्नल...

मीडिया

वीडियो वायरल करने की धमकी देकर शिकायत वापस लेने का बनाता रहा दबाव  शिकायत मिलने पर भी रेलवे ने नहीं दिखायी गंभीरता, निलंबित किया...

न्यूज हंट

52 से अधिक इंस्पेक्टरों को किया गया इधर से उधर, सभी 24 घंटे में नये स्थल पर देंगे योगदान कमलेश समाद्दार को दूसरी बार...