Connect with us

Hi, what are you looking for?

Rail Hunt

रेलवे न्यूज

एम्पलाई फ्रेंडली बने डॉक्टर, कार्य अवधि में आने वाले रेलकर्मी को उसी दिन दिया जाये फिट : पीसीएमडी

सीएमडी के सामने अपनी बात रखते मजदूर संघ के प्रतिनिधि
  • मुख्य चिकित्सा निदेशक ने शहडोल रेलवे अस्पताल के निरीक्षण में दिये कई दिशा-निर्देश
    दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे मजदूर संघ की मांगों पर ऑन द स्पॉट कार्रवाई करने को कहा

SHAHDOL : दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे (South East Central Railway) के प्रिंसिपल मुख्य चिकित्सा निदेशक डॉ एम. रवींद्रन तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ प्रभाकर राजू ने शहडोल रेलवे अस्पताल के निरीक्षण में सुधार को लेकर कई दिशानिर्देश दिये. शहडोल रनिंग स्टाफ को 00:00 में ही फिट करने की नई प्रथा के सामने आने से कर्मचारियों के होने वाले HAP के नुकसान पर मुख्य चिकित्सा निदेशक ने स्पष्ट कर दिया कि कोई भी व्यक्ति कार्यदिवश में हॉस्पिटल आता है तो उसे उसी दिन का फिट दिया जाएगा चाहे वह सुबह 10:00 से 13:00 के बीच में आए या शाम को 16:00 से 18:00 के बीच में आए. उसे उसी दिन से फिट फॉर ड्यूटी माना जाएगा, रात में फिट नहीं देना है .

सीएमडी के सामने अपनी बात रखते मजदूर संघ के प्रतिनिधि

मुख्य चिकित्सा निदेशक ने अस्पताल के सभी डॉक्टर और कर्मचारियों को एम्पलाई फ्रेंडली रहने का भी संदेश दिया. इस दौरान दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे मजदूर संघ शाखा शहडोल का प्रतिनिधिमंडल ने उसने मिलकर कर्मचारियों एवं उनके परिवार के सामने आ रही समस्याओं को रखा और स्मार पत्र भी सौंपा. इस पर सीएमडी ने तत्काल कार्रवाई के निर्देश दिये. शहडोल में मेडिकल बुक की अनुपलब्धता हेतु माननीय मुख्य चिकित्सा निदेशक ने बताया हम पूरी तरह से पेपरलेस हो रहे हैं इसके लिए मेडिकल बुक उपलब्ध नहीं हो पा रही है और जिन लोगों को UMMID में अपना रजिस्ट्रेशन करने हेतु बुक की आवश्यकता पड़ रही है उसे शीघ्र समाप्त किया जाएगा इस हेतु सीनियर डीपीओ से बात की जाएगी.

एक्स-रे मशीन की होगी खरीद, तब तक प्राइवेट केंद्र में करा सकेंगे जांच

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे मजदूर संघ द्वारा शहडोल में डिजिटल एक्स-रे की मांग रखी गई जिस पर मुख्य चिकित्सा निदेशक ने सहमति जताते हुए बताया कि नई मशीन खरीदने की प्रक्रिया शीघ्र आरंभ कर दी जाएगी ,लेकिन हमारे प्रतिनिधि मंडल द्वारा जब तक नई मशीन नहीं आती है तब तक कोई वैकल्पिक व्यवस्था के लिए जोर दिया गया ,जिसमें मुख्य चिकित्सा निदेशक महोदय ने प्राइवेट जांच केंद्र से टाइअप करके डिजिटल एक्स-रे को तुरंत प्रारंभ करने का निर्देश जारी किया है और इसी टाइअप में रेल कर्मचारियों तथा उनके परिवार के रक्त की जांच भी प्राइवेट जांच केंद्र में बिना किसी शुल्क के की जाएगी .

2 महीने में 1 दिन बिलासपुर से बाल्य,स्त्री,नेत्र, हृदय, हड्डी रोग विशेषज्ञ आयेंगे शहडोल 

शहडोल में कार्यरत कर्मचारियों के A1 लेवल तक के पीएमई जांच के विषय पर मुख्य चिकित्सा निदेशक महोदय द्वारा यह बताया गया कि मेडिकल मैन्युअल में A1 लेवल की पीएमई, मंडल मुख्यालय में ही हो सकती है इसलिए हमें उसे बिलासपुर में ही करना मजबूरी है . शहडोल रेलवे अस्पताल में बाल्य रोग विशेषज्ञ ,स्त्री रोग विशेषज्ञ एवं नेत्र रोग विशेषज्ञ की नियुक्ति के लिए शीघ्र ही अधिसूचना जारी की जाएगी और जब तक यह प्रक्रिया नहीं होती है तो दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे मजदूर संघ की मांग पर हर 2 महीने में 1 दिन बिलासपुर से बाल्य,स्त्री,नेत्र, हृदय , हड्डी रोग के विशेषज्ञ अपना कैंप आकर शहडोल रेलवे अस्पताल में लगाने का आदेश दिया गया .

बिना किसी शुल्क के प्राइवेट हॉस्पिटल में करा सकेंगे सोनोग्राफी, मिलेगी मनोवैज्ञानिक सलाह 

रेलवे अस्पताल में सोनोग्राफी एवं सभी प्रकार के टीके उपलब्ध कराने की दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे मजदूर संघ की मांग पर प्राइवेट अस्पताल के टाइअप में इसे ऐड किया जाएगा और अब रेल कर्मचारी एवं उनके परिवार सोनोग्राफी बिना किसी शुल्क के प्राइवेट हॉस्पिटल में जाकर करा सकते हैं और इसकी प्रक्रिया प्रारंभ करने और इसका प्रारूप बनाने का निर्देश वरिष्ठ मंडल चिकित्सा अधिकारी को दिया गया साथ ही साथ महीने के 1 दिन में रेलवे अस्पताल शहडोल में बच्चों के तथा माताओं के टीके लगाने का कैंप भी लगाया जाएगा.

सीएमडी के सामने अपनी बात रखते मजदूर संघ के प्रतिनिधि

रेलवे कॉलोनी के सफाई हेतु जो ट्रैक्टर अनुबंधित किया गया है वह दिन में दो चक्कर लगाएगा ऐसा अनुबंध बनाया जाएगा और शीघ्र ही इसे प्रारंभ करने का आदेश मुख्य चिकित्सा निदेशक द्वारा मुख्य स्वास्थ्य निरीक्षक शहडोल को दिया गया. सभी रेल कर्मचारियों पर कार्य का अत्यंत दवाब रहता है, जिसके लिए रेलवे बोर्ड द्वारा भी कर्मचारियों को मनोवैज्ञानिक सलाह हेतु लेटर जारी किया गया था. कई कर्मचारियों द्वारा आत्महत्या भी विगत कुछ समय से लगातार सामने आ रही है .इस संबंध में मजदूर संघ की मांग पर हर महीने मनोरोग विशेषज्ञ रेलवे अस्पताल शहडोल में आकर अपना कैंप लगाएंगे जिसमें कोई भी कर्मचारी जाकर उस कैंप को अपनी समस्या बता सकता है.

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे मजदूर संघ शाखा शहडोल के सचिव अभिषेक पाण्डेय ने मुख्य चिकित्सा निदेशक एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी एवं वरिष्ठ मंडल चिकित्सा अधिकारी का कर्मचारी की समस्याओं पर तत्काल कार्रवाई सुनिश्चित कराने के आदेश पर आभार जताया है. उन्होंने कहा है कि दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे मजदूर संघ सदा ही कर्मचारियों की वास्तविक समस्याओं के लिए जमीनी स्तर पर संघर्षरत रहा है और कर्मचारी की समस्याओं को हर संभव मंच पर उठाकर दूर करने का प्रयत्न करता रहा है .

प्रेस विज्ञप्ति

Spread the love

Latest

You May Also Like

रेलवे न्यूज

AHMEDABAD : अहमदाबाद मंडल रेल प्रबंधक तरुण जैन साहब ने अधिकारियों की पूरी टीम के साथ शनिवार  05.11.2022 की सुबह वटवा लॉबी – यार्ड...

रेलवे यूनियन

इंडियन रेलवे एस एंड टी मैंटेनर्स यूनियन (IRSTMU) ने बतायी बड़ी उपलब्धि नई दिल्ली. टेलीकॉम विभाग में 13.10.2022 से यार्ड स्टिक सिस्टम लागू हो...

न्यूज हंट

इंडियन रेलवे एस एडं टी मैंटेनरर्स यूनियन (IRSTMU) के राष्ट्रीय संरक्षा अधिवेशन में संरक्षा बिंदुओं पर हुआ मंथन सिग्नल एवं दूरसंचार कर्मचारियों की कठिन...

रेलवे यूनियन

SABNARMATI : वेस्टर्न रेलवे एम्प्लॉयज यूनियन की साबरमती शाखा 07 अक्टूबर 2022 को रेल कर्मचारियों की 31 सूत्री मांगों को लेकर की साबरमती रेलवे...